UPSTF के हत्थे चढ़ा जालसाज, इंडोनेशिया की कंपनी का फिल्म डायेरक्टर बताकर करता था ठगी

UPSTF
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। UPSTF ने राजधानी के गोमतीनगर इलाके से एक ऐसे शातिर जालसाज को गिरफ्तार किया है जो फर्जी कंपनी को इंडोनेशिया कीं कंपनी बताकर लोगों को ठगता था। वह लोगों को इंडोनेशिया के वर्चुअल नंबर से कॉल कर अपने जाल में फंसाता था। ठगी के लिये वह अपने को फिल्म डायरेक्टर और वेडिंग प्लानर बताता था।

UPSTF की गिरफ्त में मास्टरमाइंड

  • पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार किया गया मास्टरमाइंड अभिषेक शर्मा है।
  • अभिषेक के विरुद्ध गाजियाबाद के इंदिरापुरम थाने में जालसाजी का केस दर्ज था।
  • गाजियाबाद पुलिस काफी समय से उसकी तलाश कर रही थी।
  • गाजियाबाद पुलिस ने यूपी एसटीएफ से मदद मांगी थी।
  • एसटीएफ के एसएसपी ने उसकी गिरफ्तारी के लिये एक टीम लगा रखी थी।
  • छानबीन में पता चला कि वह राजधानी के गोमतीनगर इलाके में है।
  • इस सूचना पर अभिषेक को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

फर्जी आधार और मर्सिडीज़ बरामद

  • अभिषेक शर्मा के पास से मर्सेडीज कार व दो फर्जी आधार कार्ड समेत कई दस्तावेज और नगदी बरामद हुई है।
  • अभिषेक शर्मा अपने को फिल्म डायरेक्टर और वेडिंग प्लानर बताता था।
  • उसके लिये उसने एक फर्जी कंपनी बनाकर रखी थी।
  • इस कंपनी को वह इंडोनेशिया की कंपनी बताकर लोगों को अपने जाल में फंसाता था और उनसे नगदी लेकर रफूचक्कर हो जाता था।

ये भी पढ़ें : दिल्ली शर्मसार : भोजपुरी गानों में काम कर चुकी मॉडल से गैंगरेप 

फेसबुक पर फर्जी आईडी और जस्ट डायल के सहारे करता था धोखाधड़ी

  • पूछताछ में आरोपित ने बताया कि उसने फेसबुक पर कई फर्जी एकाउंट बना रखे थे।
  • एक एकाउंट आरापित ने अपनी कंपनी को इंडोनेशिया देश में दर्शाते हुए बनायी थी।
  • जस्ट डायल पर भी वह सब्सक्राइबड है। इण्टरनेट के माध्यक से लोगों के साथ धोखाधड़ी की जाती है।
  • विभिन्न विज्ञापनों के माध्यम व वेबपोर्टल, जस्ट डायल, सादीसागा, इण्डिया मार्ट, बेण्डिग वायर, बेड मी गुड, सुलेखा आदी के माध्यम से इच्छुक व्यक्ति से संपर्क किया जाता था।
  • पीडि़त को इण्डोनेशिया के वर्चुवल नंबर का प्रयोग कर कम्पलीट पैकेज का प्रलोभन देकर लोगों से ठगी की जाती थी।

भिन्न बैंकों के खातों में ट्रांसफर्र कराई जाती थी रकम

  • जालसाजी के खेल में फंसे लोगों से आरोपित भिन्न-भिन्न बैंकों के खातों में धनराशि आनलाइन ट्रांसफर कराई जाती थी।
  • फिल्म इण्डिस्ट्रीज में काम दिलाने का प्रलोभन दिया जाता था, जिसका दि फिल्म राइटर्स एसोसिएशन का कार्ड तेयार कराया गया था।
  • गिरोह द्वारा बनायी गई विभिन्न बेडिंग प्लानर साइटों व सम्बंधित बैंक खातों में जमा करायी गयी धनराशि के सम्बन्ध में गहन छानबीन की जा रही है।
  • इस गिरोह के पूरे नेटवर्क व गैंग से जुड़े लोगों की पड़ताल की जा रही है।

Related posts:

शहीद पथ पर चलती टैक्सी कार में लगी आग
दिवाली पर मीडिया ने किया जागरुक, घटी साँस के मरीजों की संख्या
नगरीय निकाय निर्वाचन में शिकायत निस्तारण के लिए कन्ट्रोलरूम खुला
अवैध रूप से शराब का कारोबार कर रहे पांच गिरफ्तार
Video_फ्रेशर पार्टी : मिस रजत प्रियंका तो मिस्टर रजत बने उत्तम बरनवाल
संदिग्ध हालात में मिले ज़ख़्मी युवक की मौत...
RSS के तेवर से पार्टी और सरकार में खलबली
Lucknow : विवेकानन्द पॉलीक्लीनिक व आयुर्विज्ञान संस्थान को एनएबीएच की मान्यता
एमिटी के तीन दिवसीय वार्षिकोत्सव ‘एमिफोरिया-2018’
शाहरुख खान : हम छोड़ देगें बॉलीवुड से एक्टिंग करना
छात्रवृति घोटाले के खिलाफ ABVP ने जिलाधिकारी कार्यालय पर किया प्रदर्शन
गांव के लड़कों ने रोकी शादी तो, पुलिस की मौजूदगी में हुई शादी,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *