पर्यावरण के अनुकूल करें पटाखे का प्रयोग: डीजीपी ओपी सिंह

लखनऊ। डीजीपी ओपी सिंह ने दिवाली पर पर्यावरण के अनुकूल पटाखे का प्रयोग करने की सलाह प्रदेश वासियों को दी है। त्यौहार को हर्षोल्लास व सुरक्षित मनाने के लिए श्री सिंह ने छोटी-छोटी बाजों को ध्यान में रखते हुए निर्देश जारी किए हैं।

प्रदेश पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि डीजीपी ने मंगलवार को निर्देश जारी करते हुए कहा कि साइलेन्स जोन अस्पताल, नर्सिंग होम, प्राथमिक एवं जिला हेल्थ केयर सेण्टर, शैक्षिक संस्थान, न्यायालय व धार्मिक स्थल अन्य घोषित क्षेत्रों में 100 मीटर की दूरी पर पटाखे फोड़े, किसी भी स्थान पर लावारिस वस्तुओं या संदिग्ध व्यक्ति के दिखाई देने पर तत्काल इसकी सूचना यूपी 100 न बर पर दें, या फिर स्थानीय पुलिस से स पर्क कर उन्हें सूचित करें। आतिशबाजी करते समय सावधानी बरती जाये। आतिशबाजी सुरक्षित स्थान पर व सावधानी के साथ करें।

ये भी पढ़ें:- पुलिस की पैनी नजरें से छावनी में तब्दील रहा अटल बिहारी स्टेडियम 

पर्यावरण के अनुकूल पटाखों का प्रयोग करें। जरा सी असावधानी से बच्चों की सुरक्षा के लिये खतरा उत्पन्न हो सकता है, अत: बच्चों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखें। आतिशबाजी करते समय पानी, बालू आदि की पर्याप्त व्यवस्था रखें ताकि आकस्मिकता की स्थिति में उनका प्रयोग कर आग लगने पर भयावह स्थिति उत्पन्न न हो तथा उस पर तत्काल नियंत्रण हो सके। जुआ खेलना अपराध है, अत: इसे हतोत्साहित किया जाय।

अराजक तत्वों द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारित होने वाली आपत्तिजनक टिप्पणियों, अफवाहों को तत्काल स बन्धित थानों एवं पुलिस अधिकारियों के संज्ञान में लायें। उन्होंने सभी जनपद पुलिस प्रभारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने जनपद के नियंत्रण कक्ष, जिलाधिकारी नियंत्रण कक्ष के फोन न बरों का व्यापक प्रचार-प्रसार सोशल मीडिया सेल द्वारा किया जाय।

ये भी पढ़ें:- घरेलू विवाद से तंग चालक व हेल्पर ने की आत्महत्या 

loading...
Loading...

You may also like

बारावफात : जुलूस के दौरान जमीन से आसमान तक थीं पैनी नजरें

लखनऊ। बारावफात के जुलूस के दौरान अराजक तत्वों