फैशन/शैली

गर्मियां के मौसम में घर पर खुद से बनाया हुआ नैचुरल टैल्कम पाउडर का इस्तेमाल करें

लाइफस्टाइल डेस्क। कुछ ही दिनों में गर्मियां शुरू हो जाएंगी। गर्मियों में पाउडर आमतौर पर 2 कारणों से लगाए जाते हैं। पहला यह कि ये एक्स्ट्रा ऑयल और पसीने को सोखता है और दूसरा कि ये गर्मी में पसीने की तेज बदबू को रोकता है। इसीलिए बहुत सारे लोग नहाने के बाद सारे शरीर पर टैल्कम पाउडर लगाते हैं। गर्मियों में डिओ और परफ्यूम से ज्यादा फायदेमंद टैल्कम पाउडर्स को माना जाता है।

नैचुरल चीजों से खुद बनाएं टैल्कम पाउडर

बाजार में मिलने वाले लगभग सभी टैल्कम पाउडर्स में केमिकल्स का प्रयोग किया जाता है। इनमें से कई केमिकल्स तो ऐसे हैं, जिनका लंबे समय तक प्रयोग कई तरह के त्वचा रोगों और कैंसर का कारण बन सकता है। कुछ पाउडर्स में एल्कोहल का भी प्रयोग किया जाता है, जो कि आपकी त्वचा के सेंसिटिव पार्ट्स के लिए बहुत अच्छा नहीं माना जा सकता है।

इसीलिए आज हम आपको बता रहे हैं घर पर ही टैल्कम पाउडर बनाने का बेहद आसान तरीका। इस टैल्कम पाउडर को बनाने में सिर्फ ऑर्गेनिक इंग्रीडिएंट्स का इस्तेमाल किया जाता है, इसलिए इसका प्रयोग सुरक्षित भी होता है और त्वचा को इससे फायदा भी मिलता है।

स्किन इंफेक्शन से बचाएगा ये पाउडर

चूंकि टैल्कम पाउडर को लगाने का उद्देश्य त्वचा को सूखा रखना और पसीने को सोखना है, इसलिए इस पाउडर को बनाने में हम ऐसी ही सामग्रियों का प्रयोग करेंगे, जिनमें नमी को सोखने गुण होते हैं, जैसे- आरारोट पाउडर, मुल्तानी मिट्टी और गुलाब की सूखी पंखुड़ियां। इन सभी सामग्रियों में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आपकी त्वचा को पसीने के कारण होने वाले बैक्टीरियल इंफेक्शन और स्किन इंफेक्शन से बचाते हैं।

जरूरी सामग्री

4 बड़े चम्मच अरारोट पाउडर

1 बड़ा चम्मच गुलाब पाउडर

1 बड़ा चम्मच मुल्तानी मिट्टी का पाउडर

1 चम्मच कैमेलिया बीज का तेल

3 बूंद जेरेनियम एसेंशियल ऑयल

1 छोटी कटोरी

जारटैल्कम पाउडर बनाने की विधि

गुलाब की पंखुड़ियां लें और उन्हें सुखाएं। फिर इसे ग्राइंडिंग जार में डालें और अच्छी तरह पीस लें। अगर जरूरत लगे या आपको रोज़ की खुश्बू पसंद है, तो आप और पत्तियां ले सकते हैं। इन्हें बारीक पीसें। गुलाब की पत्तियों के इस पाउडर को किसी एयर टाइट डिब्बे में बंद करके रख लें और जब भी जरूरत हो, तब इसका इस्तेमाल करें। टैल्कम पाउडर बनाने के लिए 1 चम्मच गुलाब की पत्तियों का पाउडर एक छोटे कटोरे में  रखें और इसमें मुल्तानी मिट्टी और अरारोट का पाउडर डालें।

इन्हें अच्छे से मिलाएं।

एक और छोटे कंटेनर में कैमेलिया बीज के तेल का एक चम्मच रखें।

पाउडर के मिश्रण में तेल को फॉर्क की मदद से अच्छी तरह से मिलाएं।

ध्यान रखें कि मिश्रण में गांठ न बने।

फिर एक फ़नल की मदद से पाउडर को एक साफ जार में डालें।

अब इसे बंद करके मीडियम तापमान रूम टेंप्रेचर वाली जगह पर रखें।

CAA के खिलाफ SC में जमीयत उलेमा-ए-हिंद की याचिका, केंद्र को नोटिस 

जरूरत के अनुसार इसका प्रयोग करें।क्यों फायदेमंद है ये टैल्कम पाउडर

गुलाब की पत्तियां आपके पाउडर में नैचुरल खुश्बू लाएंगी। गुलाब में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, इसलिए ये पाउडर आपकी त्वचा को पसीने और बैक्टीरिया से बचाता है। इस पाउडर में थोड़ी सी मात्रा में मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग किया जाता है। ये त्वचा से पानी की बूंदें और तेल को सोखने में मदद करती है। आरारोट पाउडर तो पहले से ही बहुत सारे टैल्कम पाउडर में इस्तेमाल किया जाता है। इसका टेक्सचर बहुत अच्छा होता है, जिसकी वजह से त्वचा सिल्की लगती है।

loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.