उत्तराखंड : पिथौरागढ़ से देहरादून के लिए हवाई सेवा शुरू , नैनीसैनी पट्टी से उड़ा विमान

पिथौरागढ़ से देहरादून के लिए हवाई सेवा शुरूपिथौरागढ़ से देहरादून के लिए हवाई सेवा शुरू
Loading...
[responsivevoice_button voice="Hindi Female" buttontext="Listen This News"]

पिथौरागढ़। आठ माह बाद पिथौरागढ़ की नैनी-सैनी हवाई पट्टी फिर गुलजार हो चुकी है। शुक्रवार को देहरादून से नौ यात्रियों को लेकर विमान नैनी-सैनी हवाई पट्टी पर उतरा। पिथौरागढ़ से देहरादून तक का सफर मात्र पचास मिनट में तय हुआ। विमान से पहली फ्लाइट से पिथौरागढ़ पहुंचे यात्रियों के चेहरे खिले नजर आए। एक महिला यात्री ने तो पायलट का भी आभार जताया। लो-विजिबिलिटी के कारण विमान पूर्व निर्धारित समय से लगभग चार घंटे विलंब से पहुंचा।

उत्तराखंड : यात्रीगण ध्यान दें, नवंबर से फरवरी तक ट्रेनों का संचालन रहेगा प्रभावित

फरवरी माह में हैरीटेज एविएशन के विमान में खराबी के बाद बंद हुई विमान सेवा शुक्रवार से एकबार फिर प्रारंभ हो चुकी है। शुक्रवार को देहरादून से पहली फ्लाइट पिथौरागढ़ पहुंची। सुबह पिथौरागढ़ क्षेत्र में कोहरा और आसमान में बादल छाए रहने के कारण विजिविलिटी कम होने से विमान ने देहरादून से देर में उड़ान भरी। विमान 8.50 बजे के पूर्व निर्धारित समय सेे लगभग चार घंटे बाद 12 बजकर 30 मिनट के आसपास यहां उतरा।विमान लगभग 15 मिनट तक पट्टी पर रहा और यहां से फिर नौ यात्रियों को लेकर देहरादून के लिए उड़ान भरी। पिथौरागढ़ से देहरादून जाने वाले नौ यात्रियों में अध्यक्ष केएमवीएन केदार जोशी, दर्जा राज्यमंत्री शमशेर सिंह सत्याल सहित अन्य लोग शामिल थे। पहली फ्लाइट से देहरादून से पिथौरागढ़ पहुंचे लोग विमान सेवा से काफी खुश नजर आए। यात्रियों के मुताबिक बस से देहरादून से पिथौरागढ़ पहुंचने में 15 से 16 घंटे लग जाते हैं। लगातार सफर करने से अत्यधिक थकान रहती है। विमान सेवा प्रारंभ होने से मात्र पचास मिनट में देहरादून से पिथौरागढ़ पहुंचे हैं। सफर अच्छा रहा। यात्रियों ने बताया कि पहली बार उन्होंने आसमान से सोर घाटी के दर्शन किए, यह अपने आप में रोमांच भरा था।

अब शीघ्र दो विमान उड़ेंगे

विमान के पायलट कै. काटजू ने बताया कि विमान सेवा से सीमांत के लोगों को राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि उनका कार्य जनता की सेवा है उनका प्रयास विमान को समय से पहुंचाना है। उन्होंने कहा सड़क मार्ग से सफर मुश्किल भरा रहता होगा। एक महिला यात्री ने तो मात्र पचास मिनट में देहरादून से पिथौरागढ़ पहुंचने पर उनका आभार जताया और कहा कि आज तक देहरादून से पिथौरागढ़ 16 घंटे में पहुंचते थे। कैप्टन ने बताया कि शीघ्र ही देहरादून और पिथौरागढ़ के लिए दो विमान उड़ेंगे।

आठ से हिंडन से पिथौरागढ़ तक उड़ेगा बीस सीटर विमान

वायुसेना दिवस आठ अक्टूबर से पिथौरागढ़वासियों का दिल्ली पहुंचना भी सुगम हो जाएगा। हिंडन एयरपोर्ट से आठ अक्टूबर से पिथौरागढ़ के लिए बीस सीटर विमान उडऩे वाला है। पिथौरागढ़ वासियों की भी मांग दिल्ली के लिए विमान सेवा की है। विमान सेवा प्रारंभ होने पर चीन व नेपाल सीमा से घिरे पिथौरागढ़ की दिल्ली और देहरादून से दूरी मात्र पचास मिनट रह जाएगी।

Loading...
loading...

You may also like

जानिए बजट भाषण में कब इस्तेमाल हुआ था डिजिटल शब्द, देश की नजरें भाषण पर

Loading... [responsivevoice_button voice="Hindi Female" buttontext="Listen This News"] नई