अयोध्या में राम मंदिर बनवाने को बजरंग दल करेगा 25 हज़ार भर्तियां

राम मंदिरसंतों के आदेश पर अयोध्या कूच करेंगे कार्यकर्ता

लखनऊ। दीपोत्सव के अवसर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर था, है और रहेगा। उसके बाद से ही श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए विश्व हिंदू परिषद सक्रिय हो गयी है। विहिप ने अपने युवाओं के संगठन बजरंग दल में कार्यकर्ताओं की भर्तियां शुरू करा दी हैं। विहिप ने सिर्फ अवध प्रांत में ही 25 हजार भर्तियां करने का लक्ष्य रखा है।

जिनमे से 10 हजार कार्यकर्ता भर्ती की जा चुकी हैं। भारतियों के बाद बजरंग दल के इन कार्यकर्ताओं को त्रिशूल दीक्षा (अस्त्र-शस्त्र का प्रशिक्षण) भी दिलाएगी। शनिवार को विश्व हिंदू परिषद के अवध प्रांत के संगठन मंत्री भोलन्दु ने बताया कि कार्यकर्ताओं का त्रिशूल दीक्षा कार्यक्रम 18 दिसंबर तक चलेगा।

यह भी पढ़ें : इस साल के अंत में शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण, लखनऊ में बनेगी मस्जिद 

यह त्रिशूल दीक्षाधारी कार्यकर्ता श्री राम मंदिर निर्माण के लिए संतों के आदेश पर किसी भी वक्त अयोध्या कूच करने के लिए तैयार रहेंगे। संगठन मंत्री भोलन्दु ने यह भी कहा कि मंदिर निर्माण पर विहिप कोई समझौता नहीं करने वाली है। मंदिर निर्माण को लेकर संतों के आदेशानुसार विहिप काम करेगी।

यह भी पढ़ें : योगी आदित्यनाथ का बड़ा बयान, अयोध्या में राम मंदिर था, है और रहेगा 

संगठन मंत्री भोलन्दु ने यह भी बताया कि बजरंग दल ने अवध प्रांत में अब तक 10 हजार नए कार्यकर्ताओं को दीक्षा देने का काम पूरा कर लिया है। शेष प्रांतों में भी दीक्षा के कार्यक्रम जोर-शोर से चल रहे हैं। ये त्रिशूल दीक्षाधारी कार्यकर्ता संतों के आदेश पर मंदिर निर्माण के लिए किसी भी वक्त अयोध्या के लिए कूच करने को हमेशा तैयार रहेंगे।

यह भी पढ़ें : अयोध्या में राम मंदिर बनेगा तो मैं खुद दूंगा दस लाख रूपये

उन्होंने यह भी बताया कि बजरंग दल युवाओं को राष्ट्रभक्ति से ओत-प्रोत करने के लिए त्रिशूल दीक्षा कार्यक्रमों का आयोजन समय-समय पर करता रहता है। इसमें कार्यकर्ताओं को शस्त्रों का प्रशिक्षण दिया जाता है। उन्होंने यह भी तर्क दिया कि युवाओं को अस्त्र व शस्त्र का प्रशिक्षण देना भारतीय संस्कृति का हिस्सा है।

यह भी पढ़ें : राम मंदिर पर फैसला आने में कोर्ट को लगेगा हजार साल : शिवसेना 

मंदिर निर्माण के लिए होंगे संकल्प कार्यक्रम

विहिप पदाधिकारी ने यह भी जानकारी दी है कि श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए संकल्प और प्रतिज्ञा कराने के लिए 100 स्थानों पर कार्यक्रम करना सुनिश्चित किया गया है। यह कार्यक्रम गीता जयंती 18 दिसंबर तक होंगे। उन्होंने यह भी बताया कि लगभग सभी जिलों में संकल्प और त्रिशूल दीक्षा के कार्यक्रम चल रहे हैं।

loading...
Loading...

You may also like

पटना: ऑनलाइन सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, यहां से बुलाई जाती थीं लड़कियां, ऐसे होती थी बुकिंग

पटना। पटना पुलिस को एक बार फिर बड़ी