VIDEO : …जब ट्रैकमैन करेंगे घरेलू कार्य, तो क्यों नहीं होंगे रेल हादसे ?

ट्रैकमैनट्रैकमैन

लखनऊ। रेलवे के अधिकतर ट्रैकमैन अपने अधिकारियों की जी हुजूरी में मस्त हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि जिनके कंधों पर ट्रैक सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी है।  जब वही अपना मूल कार्य नहीं करेंगे। तो रेलवे में दुर्घटना होना आम बात होना तय है।

ट्रैकमैन का प्रतिदिन उपस्थिति पंजिका पर हस्ताक्षर  करना है अनिवार्य

इस बार में रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ट्रैकमैन से घरेलू कार्य  नहीं करवाने का सख्त आदेश दे चुके हैं। इसके बावजूद रेलपथ निरीक्षक बोर्ड के आदेशों को दरकिनार करते हुए ट्रैकमैन से अपने घरेलू कार्य करवाते हैं। जबकि बोर्ड ने इन्हीं खबरों को संज्ञान में लेते हुए साफ आदेश जारी  किया है कि सभी ट्रैकमैन प्रतिदिन उपस्थिति पंजिका पर हस्ताक्षर करेगा।

रेल पथ निरीक्षक खुलेआम उड़ा रहें हैं रेलवे बोर्ड अध्यक्ष के आदेश की धज्जियां


उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल में रेलवे बोर्ड अध्यक्ष के आदेश की धज्जियां रेल पथ निरीक्षकों द्वारा खुलेआम उड़ाया जा रहा है। ADEN-1 सुल्तानपुर के अंतर्गत छन्दरौली खंड के सेक्सनल इंचार्ज सुनील शर्मा ने तो हद कर दिया है । ताजा मामला ADEN-1 सुल्तानपुर मे छन्दरौली के सेक्सनल PWI  सुनील शर्मा का ही है। जो गैंग नंबर 33 के ट्रैकमैन  ओमप्रकाश से घरेलू कार्य करवा कर फर्जी हाजिरी दी जा रही है । गैंग नंबर 33 के उपस्थिती पंजिका मे साफ-साफ  दिख रहा है कि सभी कर्मचारियों  का हस्ताक्षर है, परंतु ओमप्रकाश का पुरा खाना खाली पड़ा है। सबसे चौंकाने वाली बात तो  यह है कि सीट क्लोजिंग के दिन  ओमप्रकाश के खाली पड़े खाने मे D लगा दी गई। जबकि कुछ कर्मचारियों का कहना है कि ओमप्रकाश यहां के पूर्व SSE S.K MISHRA के लखनऊ स्थित निजी  आवास पर घरेलू काम करता है। लेकिन इसमें  कितनी सच्चाई है ये तो PWI ही बताएंगे ।

कुछ माह पूर्व वायरल हुआ था एक वीडियो, लखनऊ मंडल के DRM ने नहीं की कोई कार्रवाई

कुछ माह पूर्व एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें एक ट्रैकमैन सुनील शर्मा के घर पर बर्तन धोते हुए दिखा था और एक गेटमैन को ड्यूटी नही करने के बावजूद भी फर्जी हाजिरी देने का  आरोप लगा था। इतना होने के बाद भी लखनऊ मंडल के DRM  इनके उपर कोई भी कार्रवाई नही किये। जिससे इनका मनोबल और भी बढ़ गया है। इसका बड़ा वजह यह है कि ये PWI ट्रेड यूनियन से  जुड़े हुए है ।  ऐसा सिर्फ सुल्तानपुर उपमंडल मे नही है बल्कि पूरे लखनऊ मंडल में  है जैसे- ADEN-1 लखनऊ के यहां भी गलत तरीके से हाजिरी देने का काम किया जा रहा है ।

Loading...
loading...

You may also like

पीएम को लेकर मुलायम की शुभकामना का आखिर क्या है मतलब?

शीतला सिंह सपा के संरक्षक पद पर आसीन