जिसको तलाश कर रही थी दिल्ली-यूपी पुलिस वो दिल्ली कोर्ट में हुआ सरेंडर

ashish pandey

लखनऊ। दिल्ली के फाइव स्टार होटल ‘हयात’ के गेट पर पिस्तौल निकाल कर गुंडई करने वाले आरोपी की तलाश में दिल्ली से लेकर यूपी पुलिस की टीम लगातर उसके ठिकानों पर छापेमारी कर रही थी। लेकिन आरोपी आशीष ने गुरुवार को दिल्ली की पटियाला कोर्ट में जाकर सरेंडर अपने आप सरेंडर कर दिया। सरेंडर करने से पहले उसने एक वीडियो जारी किया है और खुद को बेकसूर बताया है। वीडियो में आशीष ने कहा कि लड़की ने पहले अश्लील इशारे किए थे और मुझे आतंकी की तरह पेश किया गया। उसने कहा कि वह सुरक्षा के लिए हथियार लेकर आया किसी पर ताना नहीं था।

इससे पहले पुलिस की टीम ने आशीष की तलाश में उसके घर, ऑफिस व अन्य ठिकानों सहित 17 जगहों पर दबिश की थी। बुधवार को एडीजी कानून-व्यवस्था आनन्द कुमार ने बताया था कि अम्बेडकर पुलिस से आशीष के शस्त्र लाइसेंस को निरस्त करने की कार्रवाई करने को कहा गया है। वहां के डीएम और एसएसपी कार्रवाई कर रहे हैं। दिल्ली पुलिस की टीम ने लखनऊ में कई ठिकानों के अलावा अकबरपुर व बस्ती में भी दबिश दी थी। अकबरपुर और लखनऊ में आशीष के 10 से अधिक दोस्तों से पूछताछ की गई थी।

पढे:- अब अगर सड़क पर बारात निकली, तो देना होगा 15 लाख रुपए का जुर्माना 

आरोपी के पिता से की पूछताछ

आरोपी आशीष की तलाश में जुटी पुलिस ने उसके बुधवार को उसके पिता व बीएसपी के पूर्व सांसद राकेश पांडेय से करीब चार घंटे पूछताछ की। इस दौरान उनसे बेटे आशीष पांडेय के को लेकर 50 सवाल पूछे गए। पूछताछ के दौरान आशीष के पिता ने ज्यादातर सवालों के जवाब दिए तो कई सवाल को टाल गए। खासतौर से बेटे के ठिकाने के बारे पूछने और उससे संपर्क होने की बात पूछने पर वह या तो चुप्पी साधे हुए थे या फिर इंकार कर रहे थे। स्पेशल कमिश्नर लॉ एंड ऑर्डर आरपी उपाध्याय ने यह बताया कि पुलिस द्वारा जांच के लिए बुलाए जाने पर पिता राकेश पांडेय के अलावा चाचा उदयराज और एक चचेरा भाई नवनीत जांच में शामिल हुए थे। उन्होंने पुलिस को आश्वासन दिया कि वे जांच में पूरा सहयोग करेंगे और उनका बेटा संपर्क में आता है तो वह उसे पुलिस के पास लेकर आएंगे।

loading...
Loading...

You may also like

अल्पसंख्यकों का उत्पीडऩ किसी भी सूरत में नहीं किया जाएगा बर्दाश्त- शिवपाल

लखनऊ। समाजवादी पार्टी से अलग होकर प्रगतिशील सपा