अवैध कब्जे को लेकर महिलाओं का रोड जाम, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

लखनऊ। शमशान की जमीन की पैमाइश न होने से नाराज हिंदूखेड़ा, अमौसी गांव की तमाम महिलाओं ने बुधवार को सरोजनीनगर स्थित हाइडिल चौराहे के पास कानपुर रोड जाम कर दी। रोड जाम की सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने पहले तो उन्हें समझाने की कोशिश की, लेकिन जब आक्रोशित महिलाएं नहीं मानी तो पुलिस ने उनके ऊपर लाठी चार्ज कर दिया और उन्हें हिरासत में लेकर थाने ले लाई।

यह भी पढ़ें :लखनऊ : अज्ञात लाश की पहचान नहीं कर सकी पुलिस…

लाठी चार्ज में कई महिलाऐं घायल…

  • पुलिस और महिलाओं के बीच हुए इस बवाल में जहां महिलाओं पक्ष के 3 लोग घायल हो गए।
  • वहीं एक महिला व पुरुष सिपाही को भी चोटें आई हैं।
  • बताते चलें कि सरोजनीनगर प्रथम वार्ड के अमौसी गांव स्थित खसरा .1113 की शमशान में दर्ज जमीन पर बीती 29 जनवरी को जेसीबी मशीन लेकर पहुंचे एक प्रॉपर्टी डीलर ने अवैध कब्जा करने के लिए नाली खुदवा दी थी।
  • इसकी भनक लगने पर  हिंदूखेड़ा गांव के लोगों ने उसी समय मौके पर हंगामा किया था।
  • इसके बाद नगर निगम विभाग की ओर से बुधवार को जमीन की पैमाइश करने की बात तय हुई थी।
  • इसी पैमाइश को लेकर आज हिंदूखेड़ा गांव की तमाम महिलाएं व पुरुष सुबह से ही मौके पर पहुंच गए।
  • लेकिन दोपहर बाद तक जमीन की पैमाइश करने वहां कोई नहीं पहुंचा।
  • इसी से नाराज दर्जनों महिलाएं व पुरुष कानपुर रोड स्थित हाइडल नहर चौराहे पर पहुंच गए।
  • कानपुर रोड जाम कर दी।

सूचना के बाद पहुंची पुलिस…

  • पुलिस ने उन्हें समझाने की कोशिश कीए लेकिन वह मानने को तैयार नहीं हुई।
  • इस पर सरोजनीनगर थाने के अलावा बंथरा थाने से भी भारी फोर्स बुला ली गयी।
  • इस दौरान महिलाओं और पुलिस के बीच जमकर धक्का.मुक्की हुई।
  • बाद में पुलिस ने उनके ऊपर लाठियां बरसा दीं।
  • पुलिस लाठीचार्ज में जहां मुन्नी देवीए राजा रानी और राजेश धीमान घायल हो गए।
  • वहीं महिला सिपाही शिल्पी साहू और मुकेश सिंह को भी चोटें आई हैं।
  • फिलहाल पुलिस ने इस मामले में 3 महिलाओं सहित 4 लोगों का धारा 151 में चालान कर दिया है।

यह भी पढ़ें : लखनऊ : फर्नीचर गोदाम में लगी आग, लाखों का नुक़सान…

थाने से फोर्स न मिलने पर नहीं पहुंचे लेखपाल

  • सरोजनीनगर थाने पर मौजूद नगर निगम लेखपाल राधेश्याम ने बताया की वह पैमाइश करने के लिए फोर्स मांगने पूर्वाहन करीब 11 बजे ही अपनी टीम के साथ थाने पर पहुंच गए थे।
  • लेकिन कई घंटों बैठने के बावजूद भी उन्हें पुलिस फोर्स नहीं मुहैया कराई गई।
  • जिसकी वजह से वह जमीन की पैमाइश करने नहीं पहुंच सके।
  • महिलाओं के इस बवाल से करीब आधे घण्टे तक कानपुर रोड जाम रही।
  • इसकी वजह से रोड पर काफी दूर तक वाहनों की लंबी कतारें लग गईं।
  • रोड जाम के कारण कई एंबुलेंस भी उसी में फंसी रहीं।
loading...
Loading...

You may also like

विधान परिषद सभापति रमेश यादव के बेटे अभिजीत की गला घोंटकर हत्या

लखनऊ। विधान परिषद सभापति रमेश यादव के बेटे