अवैध कब्जे को लेकर महिलाओं का रोड जाम, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। शमशान की जमीन की पैमाइश न होने से नाराज हिंदूखेड़ा, अमौसी गांव की तमाम महिलाओं ने बुधवार को सरोजनीनगर स्थित हाइडिल चौराहे के पास कानपुर रोड जाम कर दी। रोड जाम की सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने पहले तो उन्हें समझाने की कोशिश की, लेकिन जब आक्रोशित महिलाएं नहीं मानी तो पुलिस ने उनके ऊपर लाठी चार्ज कर दिया और उन्हें हिरासत में लेकर थाने ले लाई।

यह भी पढ़ें :लखनऊ : अज्ञात लाश की पहचान नहीं कर सकी पुलिस…

लाठी चार्ज में कई महिलाऐं घायल…

  • पुलिस और महिलाओं के बीच हुए इस बवाल में जहां महिलाओं पक्ष के 3 लोग घायल हो गए।
  • वहीं एक महिला व पुरुष सिपाही को भी चोटें आई हैं।
  • बताते चलें कि सरोजनीनगर प्रथम वार्ड के अमौसी गांव स्थित खसरा .1113 की शमशान में दर्ज जमीन पर बीती 29 जनवरी को जेसीबी मशीन लेकर पहुंचे एक प्रॉपर्टी डीलर ने अवैध कब्जा करने के लिए नाली खुदवा दी थी।
  • इसकी भनक लगने पर  हिंदूखेड़ा गांव के लोगों ने उसी समय मौके पर हंगामा किया था।
  • इसके बाद नगर निगम विभाग की ओर से बुधवार को जमीन की पैमाइश करने की बात तय हुई थी।
  • इसी पैमाइश को लेकर आज हिंदूखेड़ा गांव की तमाम महिलाएं व पुरुष सुबह से ही मौके पर पहुंच गए।
  • लेकिन दोपहर बाद तक जमीन की पैमाइश करने वहां कोई नहीं पहुंचा।
  • इसी से नाराज दर्जनों महिलाएं व पुरुष कानपुर रोड स्थित हाइडल नहर चौराहे पर पहुंच गए।
  • कानपुर रोड जाम कर दी।

सूचना के बाद पहुंची पुलिस…

  • पुलिस ने उन्हें समझाने की कोशिश कीए लेकिन वह मानने को तैयार नहीं हुई।
  • इस पर सरोजनीनगर थाने के अलावा बंथरा थाने से भी भारी फोर्स बुला ली गयी।
  • इस दौरान महिलाओं और पुलिस के बीच जमकर धक्का.मुक्की हुई।
  • बाद में पुलिस ने उनके ऊपर लाठियां बरसा दीं।
  • पुलिस लाठीचार्ज में जहां मुन्नी देवीए राजा रानी और राजेश धीमान घायल हो गए।
  • वहीं महिला सिपाही शिल्पी साहू और मुकेश सिंह को भी चोटें आई हैं।
  • फिलहाल पुलिस ने इस मामले में 3 महिलाओं सहित 4 लोगों का धारा 151 में चालान कर दिया है।

यह भी पढ़ें : लखनऊ : फर्नीचर गोदाम में लगी आग, लाखों का नुक़सान…

थाने से फोर्स न मिलने पर नहीं पहुंचे लेखपाल

  • सरोजनीनगर थाने पर मौजूद नगर निगम लेखपाल राधेश्याम ने बताया की वह पैमाइश करने के लिए फोर्स मांगने पूर्वाहन करीब 11 बजे ही अपनी टीम के साथ थाने पर पहुंच गए थे।
  • लेकिन कई घंटों बैठने के बावजूद भी उन्हें पुलिस फोर्स नहीं मुहैया कराई गई।
  • जिसकी वजह से वह जमीन की पैमाइश करने नहीं पहुंच सके।
  • महिलाओं के इस बवाल से करीब आधे घण्टे तक कानपुर रोड जाम रही।
  • इसकी वजह से रोड पर काफी दूर तक वाहनों की लंबी कतारें लग गईं।
  • रोड जाम के कारण कई एंबुलेंस भी उसी में फंसी रहीं।

Related posts:

विवादित भूमि पर राम मंदिर का निर्माण ही होना चाहिए : मुख्तार अब्बास नकवी
महंत ने उठाई उपेक्षित मूर्तियां, लोगों को किया जागरुक
शरीर को संसार और मन को ईश्वर में लगा दो : जया किशोरी
दाग़ी नेताओं के लिए बनेंगी विशेष अदालत....
नूतन व अमिताभ ठाकुर रेप केस मामले में एसएसपी ने तीन इंस्पेक्टर समेत 5 विवेचकों को नोटिस...
सचिन बिना खाता खोले राज्यसभा से होंगें आउट
रांची जेल में लालू की सेवा के लिए पहुंचे उनके दो 'सेवक'
सुशील मोदी ने इस काम में सहयोग के लिए RJD-कांग्रेस से की Request
पटना : छात्रा से छेड़छाड़ के आरोप में आयकर विभाग के ज्वाइंट कमिश्नर गिरफ्तार
आबकारी प्रमुख सचिव के नाम पर अधिकारी करवा रहे हैं महंगी शराब की वसूली
कर्नाटक चुनाव से पहले बड़ा ख़ुलासा, 18 लाख मुस्लिम मतदाता वोटर लिस्ट से गायब
उन्नाव गैंगरेप : आरोपी बीजेपी विधायक के आतंकियों के साथ हैं संबंध!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *