तेजस्वी यादव ने पीएम चेहरे को लेकर दिया चौकाने वाला बयान

तेजस्वी यादव

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव को लेकर विपक्षी दल महागठबंधन बनाने की तैयारी कर रहे हैं। लेकिन इस बात पर अभी भी संशय बना हुआ है कि अगर विपक्षी दल एक साथ मिलकर चुनाव लड़ते हैं तो उनका पीएम चेहरा कौन होगा। वहीं इस मसले पर तेजस्वी से राहुल को पीएम उम्मीदवार मानने को लेकर सवाल किया गया। इस पर उन्होंने अपना रुख साफ़ करते हुए बड़ा बयान दिया है।

पढ़ें:- रोजा इफ्तार पार्टी: शत्रुघ्न से पूछा RJD से लेंगे टिकट? इस पर तेजप्रताप के जवाब ने मचाया हडकंप 

तेजस्वी यादव किसको बनाना चाहते हैं पीएम?

एक न्यूज़ चैनल से बातचीत के दौरान बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने कहा कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ मिलकर बीजेपी और उसकी सरकार से लोकतंत्र और संविधान को बचाने का काम कर रहे हैं। इसके बाद जब यह सवाल पूछा गया कि क्या राहुल गांधी पीएम के चेहरे के लिए मायावती, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी को मंजूर होंगे? उन्होंने कहा कि जब यूपीए-1 और यूपीए-2 बना तब भी मनमोहन सिंह का नाम पहले नहीं आया था। बाद में सबने मिलकर गठबंधन बनाया और 10 साल तक सरकार चली।

तेजस्वी ने कहा कि अभी तक प्रधानमंत्री उम्मीदवार का दावा आधिकारिक रूप से किसी ने भी नहीं किया है। हालांकि राहुल गांधी ने यह कहा है कि अगर उनकी पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनती है। तब वह दावा पेश करेंगे राजद नेता ने कहा कि उनके मुताबिक अगर कोई भी राजनीतिक पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनती है तब तो वह दावा करेगी ही करेगी। लेकिन अगर आप विपक्ष में देखें तो कई ऐसे बड़े चेहरे हैं, जो पीएम पद के लिए कई चेहरे हैं।

पढ़ें:- तेजस्वी-तेजप्रताप विवाद के बाद लालू परिवार पर आया यह संकट 

उन्होने कहा कि अभी तक आधिकारिक रूप से किसी ने भी दावा पेश नहीं किया है। उनके इस बयान से ये बात साबित हो जाती है कि वह भी राहुल को पीएम उम्मीदवार बनाने को लेकर पूरी तरह सहमत नहीं हैं।

आरएसएस और बीजेपी पर तेजस्वी का हमला

इस दौरान बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम ने आरएसएस और बीजेपी पर जमकर हमला बोला उन्होंने कहा कि आरएसएस और बीजेपी के लोग जब तक रहेंगे तब तक देश के संविधान को खतरा रहेगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी के केंद्रीय मंत्री कह चुके हैं कि वे तो संविधान को बदलने आए हैं।

पढ़ें:- JDU प्रवक्ता ने तेजस्वी को दिया चैलेंज, कहा- RJD के असामाजिक तत्वों का खुलासा करें

वहीं आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि संघ प्रमुख भी बार-बार कहते रहते हैं कि आरक्षण को खत्म कर देना चाहिए। जिस प्रकार से सेंट्रल एजेंसियों का इन लोगों ने दुरुपयोग किया है वह बहुत ही गलत है।

loading...
Loading...

You may also like

सतना में अमित शाह ने कहा- कांग्रेस ने तीन तलाक बिल का विरोध किया

सतना। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मध्यप्रदेश के सतना