Main Sliderउत्तर प्रदेशख़ास खबरराष्ट्रीयलखनऊस्वास्थ्य

योगी सरकार ने कोरोना संक्रामण से बचाव के लिए 2000 टीमों का किया गठन, घर-घर होगी स्क्रीनिंग

लखनऊ। लखनऊ में कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए यूपी सरकार के स्वास्थ्यकर्मी 5 जुलाई से लोगों के घर-घर पहुंचेंगे और स्क्रीनिंग करेंगे। लखनऊ में इस काम के लिए 2000 टीमों का गठन किया गया है।

उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य विभाग कोरोना संक्रमण पर ब्रेक लगाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाह रहा है। इसके तहत 5 जुलाई से लखनऊ में स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर पहुंचेगी और कोरोना के संभावित मरीजों का पता लगाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए 2000 टीमों का गठन किया है। इस टीम में एक्सपर्ट भी मौजूद रहेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने यूपी में कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने को भी कहा है। इस वक्त यूपी में लगभग 26 हजार टेस्ट प्रतिदिन हो रहे हैं, इसे बढ़ाकर 30 हजार करने को कहा गया है।

यूपी में कोरोना के 817 नए मामले, अब तक 735 लोंगों की मौत

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की चपेट में अबतक 24 हजार 56 लोग आ चुके हैं। इनमें से 16629 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं, राज्य में एक्टिव मामलों की संख्या 6709 है, जबकि 718 लोगों की मौत इलाज के दौरान हो चुकी है।

इस बीच दिल्ली-एनसीआर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को महत्वपूर्ण बैठक बुलाई है। बैठक में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शामिल होंगे। बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिय शाम 4.30 बजे होगी। बता दें कि ये तीनों ही राज्य एक दूसरे से सटे हुए हैं।

 

loading...
Loading...
Tags