ख़ास खबरखेलराष्ट्रीय

युवराज सिंह ने शेयर की फैन की भारतीय बैटिंग को लेकर मजेदार सलाह

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की वजह से सभी क्रिकेट गतिविधियां ठप पड़ी हुई हैं। ऐसे में सभी क्रिकेटर घर में परिवार के साथ वक्त बिता रहे हैं। दूसरे क्रिकेटरों की तरह युवराज सिंह भी घर में हैं और सोशल मीडिया पर कुछ ज्यादा ही एक्टिव भी हैं। हाल ही में कीप इट अप चैलेंज की शुरुआत करने के बाद अब युवराज सिंह की इंस्टा स्टोरी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। युवी की यह इंस्टा स्टोरी उनके एक फैन की सलाह है। भारतीय बल्लेबाजी को लेकर इस फैन की मजेदार सलाह को युवराज सिंह ने अपनी इंस्टा स्टोरी में शेयर किया है।

युवराज सिंह के टीम इंडिया से बाहर होने के बाद से नंबर 4 बैटिंग पोजिशन की समस्या बनी हुई हैं। युवराज सिंह के बाद से अबतक भारतीय क्रिकेट टीम को इस पोजिशन का कोई सही दावेदार नहीं मिल पाया है। हालांकि, पिछले कुछ वक्त में श्रेयस अय्यर ने शानदार परफॉर्मेंस के दम पर इस जगह को पक्का करने की कोशिश की है। लेकिन अभी उन्होंने बहुत वक्त क्रिकेट नहीं खेला है, ऐसे में अभी नंबर 4 के लिए उन्हें पक्का मानना जल्दी होगी।

युवराज सिंह की इंस्टा स्टोरी में एक फैन की सलाह है, जिसने भारतीय बल्लेबाजी की समस्या के लिए तीन ऑप्शन दिए हैं। ये तीनों ऑप्शन की काफी मजेदार हैं। इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि युवराज ने खुद इस फैन के पोस्ट को अपनी इंस्टा स्टोरी में शेयर किया है।

इस फैन्स की सलाह के मुताबिक, भारतीय बल्लेबाजी की समस्या का हल करना है तो- ‘1. युवी को कॉल कीजिए, 2. युवी को व्हॉट्सप कीजिए, 3. युवी जूनियर का इंतजार करिए।’ इन तीन ऑप्शन के साथ एक फैन हाथ में यह पोस्टर लिए हुए खड़ा हुआ है। युवराज सिंह ने हंसने वाले इमोजी के साथ फैन के इस पोस्टर को शेयर किया है।

बता दें कि 17 साल देश के लिए खेलने के बाद युवराज सिंह ने पिछले साल जून में इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लिया था। ऑलराइउंडर युवराज ने भारत के लिए 304 वनडे मैचों में 8701 रन और 111 विकेट लिए हैं। वहीं, उन्होंने 58 टी-20 मैचों में 136.66 की स्ट्राइक रेट से 1177 रन बनाए हैं।

युवराज सिंह 2007 के टी-20 वर्ल्ड कप और 2011 वर्ल्ड कप की जीत में हीरो रहे थे। 2011 में कैंसर से जंग के बाद उन्होंने 2017 में वापसी की थी। उन्होंने कैंसर के चार साल बाद टीम इंडिया की वनडे टीम में वापसी की। इसके बाद उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में 150 रनों की पारी खेलकर अपनी फॉर्म भी दिखाई, लेकिन अपनी इस परफॉर्मेंस को वह नियमित नहीं रख पाए। कुछ महीनों बाद उनका परफॉर्मेंस गिरने लगा।

loading...
Loading...