Tech/Gadgetsउत्तर प्रदेशख़ास खबरगोरखपुरराजनीति

विकास और निर्माण कार्यो में लापरवाही बर्दाश्त नहीं : योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि निर्माण कार्य गुणवत्तायुक्त एवं समयबद्ध ढंग पूर्ण किये जायें और यदि कहीं भी निर्माण एवं विकास कार्यों के प्रति लापरवाही पायी जाती है तो संबंधित की जिम्मेदारी तय करते हुए उसके विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।

श्री योगी ने मंगलवार देर रात वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से गोरखपुर मण्डल के विकास कार्यों की विस्तृत समीक्षा की तथा निर्देश दिये कि यदि कही भी निर्माण एवं विकास कार्यों के प्रति लापरवाही पायी जाती है तो संबंधित की जिम्मेदारी तय करते हुए उसके विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।

खाली-पीली का ट्रेलर हुआ रिलीज:- धमाकेदार एक्शन और चार्ट बस्टर गाने के साथ बनी फिल्म!

उन्होंने गोरखपुर-वाराणसी मार्ग निर्माण की धीमी प्रगति पर कड़ी नाराजगी प्रकट करते हुए कहा कि मैन पावर बढ़ाकर कार्य में तेजी लाई जाये तथा समय सीमा निर्धारित की जाये। उन्होंने स्पष्ट कहा कि लापरवाही पाये जाने पर दायित्व निर्धारित करते हुए संबंधित ठेकेदार के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाये क्योंकि आम जनता के आवागमन की सुविधा के दृष्टिगत लापरवाही क्षम्य नही होगी।

मुख्यमंत्री ने एम्स के निर्माण की धीमी प्रगति पाये जाने पर कार्यदायी संस्था को निर्देश दिये कि कार्य में तेजी लाई जाये क्योंकि एम्स के बनने से पूरा पूर्वी उत्तर प्रदेश लाभान्वित होगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री को बताया गया कि जून 2021 तक एम्स का निर्माण कार्य पूर्ण हो जायेगा।

पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी समेत पांच के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट

मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि कार्य में कोई परेशानी या व्यवधान आता हो तो उसे स्थानीय प्रशासन को अवगत करायें तथा कार्य समय से पूर्ण करें। हर विकास योजना की समय सीमा तय की जाये और यदि विकास कार्य में कोई व्यवधान या मनमानी करता है तो उसके विरूद्ध सख्त कार्यवाही सुनिश्चित की जाये तथा कार्य की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान रखा जाये।

हिन्दुस्तान रसायन उर्वरक लिमिटेड की प्रगति की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मैन पावर बढ़ाकर कार्य में तेजी लायें। बताया गया कि जुलाई 2021 तक कार्य पूर्ण हो जायेगा और भौतिक प्रगति 90 प्रतिशत की बताई गयी।

कुशीनगर अन्तरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि कनेक्टिविटी, सुरक्षा आदि की समुचित व्यवस्था अतिशीघ्र की जाये।

चमकी किस्मत और मंदिर का क्लर्क बना करोड़पति, लगी 12 करोड़ की लॉटरी

मुख्यमंत्री ने कहा कि इंसेफ्लाइटिस प्रभावित गावों में हर घर को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिये कार्य योजना तैयार की जाये क्योंकि इंसेफ्लाइटिस को रोकने के लिए जन मानस को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि कोई भी प्रभावित गांव छूटने न पाये इसकी कार्य योजना शीघ्र तैयार कर शासन को प्रेषित की जाये और जो वाटर टैंक बनाये गये है तथा क्रियाशील नही है, उन्हें क्रियाशील किया जाये और बन्द पड़े रहने का दायित्व भी निर्धारित किया जाये।

उन्होंने कहा कि ग्राम सचिवालय के नाम जमीन चिन्हांकन कर समय से कार्य पूर्ण किये जायें क्योंकि इसमें 4 से 5 लोगों को रोजगार से जोड़ने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि परियोजनाओ को समयबद्ध एवं गुणवत्ता के साथ पूरा किया जाये जिससे कि आम जनता को कोई परेशानी न हो।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत और सावधानी की आवश्यकता है। ज्यादा से ज्यादा लोगो की जांच सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि विकास की योजनाओ को तीब्र गति से पूर्ण कराया जाये तथा जनप्रतिनिधियो के साथ बेहतर संवाद बनाकर कार्य किया जाये । मुसहर एवं वनटांगिया गांव में विकास की योजनाएं तीब्र गति से संचालित हो तथा उन्हें राशन कार्ड, आयुष्मान कार्ड, मुख्यमंत्री जन आरोग्य कार्ड, पेंशन आदि योजनाओ का लाभ मिले। महिला स्वयं सहायता समूह का गठन कराया जाये।

खूबसूरत फिल्म सिटी के दावे को अमल की दरकार

उन्होंनेे कहा कि त्यौहारो के पहले सड़को को गड्डामुक्त किया जाये तथा हर परियोजनाओ के लिए एक नोडल अधिकारी नियुक्त करते हुए गुणवत्तयुक्त कार्य पूर्ण कराया जाये। बाढ़ से बचाव के कार्यों को प्राथमिकता से कराया जाये पर्यटन के विकास के दृष्टि से शहीद स्थलो/स्मारको का सौन्र्दीकरण कराते हुए चैरीचैरा में लाइट एण्ड साउण्ड शो की योजना बनाई जाये। तहसील समाधान दिवसों का आयोजन सुनिश्चित किया जाये।

loading...
Tags