Main Sliderउत्तर प्रदेशख़ास खबररामपुरशिक्षा

एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय ने तय तिथि से पूर्व कराई परीक्षा, छात्रों ने डीएम से की शिकायत

रामपुर। एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय के दीक्षित कॉलेज ऑफ हायर एजुकेशन रामपुर से मास्टर ऑफ सोशल वर्क (MSW) की पढ़ाई कर रहे छात्र छात्राओं ने अंतिम वर्ष की परीक्षा बिना सूचित किए तय तिथि से पहले कराने का आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी से शिकायत की।

कोविड-19 संक्रमण के चलते विश्वविद्यालय स्तर की परीक्षाएं भी देर से हो रहीं हैं।जिसमें स्नातक और परास्नातक की अंतिम वर्ष की परीक्षाएं तय तिथि के अनुसार सोशल डिस्टेंसिंग और नियमानुसार कराई जा रहीं हैं। लेकिन छात्र छात्राओं का आरोप है कि दीक्षित कॉलेज ऑफ हायर एजुकेशन में 4th सेमेस्टर के होने वाली परीक्षा जिसका सेंटर राजकीय रज़ा स्नातकोत्तर महाविद्यालय में था और 17 सितम्बर परीक्षा की तिथि तय थी।

नेशनल एप्टीट्यूड टेस्ट इन आर्किटेक्चर के 12 सितंबर को हुई परीक्षा के नतीजे आज होंगे जारी

लेकिन परीक्षा देने पहुँचे छात्र छात्राओं को रज़ा परीक्षा केंद्र से यह कह कर वापस भेज दिया गया कि परीक्षा 15 सितंबर को आयोजित की जा चुकी है जिस पर छात्र छात्राओं ने वर्ष बर्बाद होने का आरोप लगाया और सभी छात्र छात्राओं ने कलेक्ट्रेट पहुँचकर जिलाधिकारी से शिकायत की जिस पर जिलाधिकारी ने भी संज्ञान लिया।

वहीं राजकीय रज़ा पीजी कॉलेज के प्रचार्य पीके वार्ष्णेय का कहना है कि एमएसडब्ल्यू परीक्षा विश्वविद्यालय द्वारा प्रीपोंड किया गया जिसकी बदली हुई समयसारणी साइट पर अपलोड कर दी गयी।कोरोना काल के चलते छात्रों को घर पर देखना चाहिए था।

यूएई के कप्तान अहमद रजा और युवा कार्तिक मेयप्पन को टीम में किया शामिल

लेकिन छात्रों के भविष्य को लेकर प्रिपोंड से बचना चाहिए और सूचना के लिए विश्वविद्यालय को अखबारों व मीडिया के अन्य माध्यमों से छात्रों को अवगत कराना चाहिए क्योंकि ग्रामीण क्षेत्र के परीक्षार्थियों को सूचना नहीं मिल पाती है।कहा कि सहानुभूति पूर्वक विश्वविद्यालय छात्रों के भविष्य को लेकर इंतेज़ाम करे।

loading...
Tags