Main Sliderक्राइमख़ास खबरनई दिल्लीराजनीतिराजस्थानराष्ट्रीय

राजस्थान में विधायक खरीद-फरोख्त के आरोपी संजय जैन ने वॉयस सैम्पल देने से किया इंकार

नई दिल्ली। राजस्थान में सियासी संग्राम के बीच लगातार नए-नए प्रकरण सामने आ रहे हैं। 14 अगस्त से राजस्थान विधानसभा सत्र की शुरुआत होगी। इससे पहले विधायकों को भी जैसलमेर शिफ्ट किया गया। वहीं विधायकों की खरीद-फरोख्त के मामले में चल रही एसओजी की जांच में नया मोड़ सामने आया है।

विधायकों की खरीद फरोख्त के वायरल ऑडियो क्लिप के मामले में पकड़े गए संजय जैन ने अपना वॉयस सैम्पल देने से मना कर दिया है। संजय जैन को शुक्रवार को एमएम-2 कोर्ट में पेश किया गया था। इस मामले में एसीबी भी जैन से पूछताछ करेगी।

विधायकों की खरीद- फरोख्त के मामले में एसीबी ने संजय जैन को प्रोडक्शन वारंट पर लेने के लिए एसीबी कोर्ट में प्रार्थना-पत्र लगाया है। एसीबी ने भी संजय जैन और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर रखा है। वहीं इस बीच एसीबी की टीम शुक्रवार को हरियाणा के मानेसर भी पहुंची थी।

दिग्विजय बोले- पूर्व पीएम राजीव गांधी भी चाहते थे कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर बने

एसीबी की टीम मानेसर होटल में सचिन पायलट ख़ेमे के विधायकों को नोटिस देने के लिए गई थी, लेकिन होटल प्रबंधन ने विधायकों के वहां होने से साफ मना कर दिया। इन सबके बीच संजय जैन ने कोर्ट में अपनी जमानत याचिका भी दायर कर रखी है।

उस पर भी आज सीएमएम-2 अदालत में सुनवाई होनी है। संजय जैन को एसओजी ने 17 जुलाई को गिरफ्तार किया था। संजय जैन फिलहाल 5 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में है।

अशोक गहलोत ख़ेमे के विधायकों को फेयरमोंट होटल से जैसलमेर के सूर्यागढ़ होटल में शिफ्ट कर दिया गया है। शुक्रवार को जयपुर के होटल से बस से जयपुर एयरपोर्ट और इसके बाद प्लेन के जरिए विधायकों को जैसलमेर शिफ्ट किया गया है। विधायकों को 15 दिन का सामान लाने को कहा गया था। अब विधानसभा सत्र तक विधायक जैसलमेर में ही रुकेंगे।

loading...
Loading...
Tags