ख़ास खबरशिक्षा

 ‘यूपी बोर्ड ऑफ सेकंडरी संस्कृत एजुकेशन’ में फर्जी शिक्षा बोर्ड के संचालकों के खिलाफ कार्रवाई शुरू

लखनऊ| ‘यूपी बोर्ड ऑफ सेकंडरी संस्कृत एजुकेशन’ के नाम से चल रहे फर्जी शिक्षा बोर्ड के संचालकों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद के सचिव की ओर से सोमवार को संस्कृत बोर्ड के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले जालसाजों के खिलाफ जांच बैठा दी है।

बिहार लोक सेवा आयोग ने दो बड़ी परीक्षाओं की तिथि में किया बदलाव

इस फर्जी बोर्ड के संचालन का खुलासा किया था। ‘यूपी बोर्ड ऑफ सेकंडरी संस्कृत एजुकेशन’ के नाम से फर्जी बोर्ड बनाकर जालसाज धोखाधड़ी कर रहे हैं। प्रदेश सरकार की ओर से उत्तर प्रदेश माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद, शाहमीना रोड, लखनऊ का गठन किया गया है। इसकी आधिकारिक वेबसाइट www.sanskriteb.gov.in  है।  जालसाज इसी से मिलते जुलते ‘यूपी बोर्ड ऑफ सेकंडरी संस्कृत एजुकेशन’ के नाम पर एक फर्जी शिक्षा बोर्ड का संचालन कर रहे हैं।

असिस्टेंट रिव्यू ऑफिसर और असिस्टेंट अकाउंटेंट भर्ती के लिए आवेदन का आज अंतिम दिन

उत्तर प्रदेश माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद के सचिव दीप चन्द ने बताया कि विभागीय स्तर पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। विभागीय जांच पूरी करके इसे पुलिस कार्रवाई के लिए भेजा जाएगा। इसके लिए पुलिस कमिश्नर को भी पत्र लिखा जा रहा है। पत्र में वेबसाइट को बंद कराने और संचालकों के खिलाफ विधिक कार्रवाई के संबंध में लिखा जा रहा है।

loading...
Tags