ख़ास खबरखेलराष्ट्रीय

सेमीफाइनल मैच में अख्तर-अफरीदी ने ऐसे की थी आशीष नेहरा की मदद

नई दिल्ली| आशीष नेहरा ने हाल ही में इस बात का खुलासा किया कि किस तरह पाकिस्तानी क्रिकेटरों शाहिद अफरीदी और शोएब अख्तर ने उन्हें 2011 के सेमीफाइनल की टिकट दिलवाई थी। विश्व कप का यह सेमीफाइनल मैच भारत-पाकिस्तान के बीच था। नेहरा टीम में थे, लेकिन उन्हें अपने परिवार के लिए टिकट चाहिए थे। मैच चंडीगढ़ के मोहाली स्टेडियम में खेला जाना था। नेहरा ने बताया कि पूरी दुनिया से लोग मैच देखने आए थे। लिहाजा टिकट खत्म हो गए थे।

महबूबा की जल्द हो रिहाई, राहुल बोले- नेताओं को बंदी बनाना लोकतंत्र को क्षतिग्रस्त करने जैसा

आशीष नेहरा के लिए अतिरिक्त टिकट का इंतजाम करना काफी मुश्किल हो रहा था। ऐसे में शाहिद अफरीदी और शोएब अख्तर ने अपना सेलिब्रिटी कार्ड खेला और अंत में नेहरा को कुछ एक्स्ट्रा टिकट मिल गए।

आशीष नेहरा ने ‘ग्रेटेस्ट राइवलरी पॉडकास्ट’ में कहा, ”मैच से दो-तीन दिन पहले तक किसी को नहीं पता था कि सेमीफाइनल में भारत और पाकिस्तान का मुकाबला होगा। सब कुछ बहुत जल्दी में हुआ। 72 घंटे में सबको पता चल गया कि सेमीफाइनल भारत और पाकिस्तान के बीच होगा। मैंने पहले कभी ऐसा नहीं देखा था। चंडीगढ़ में बहुत ज्यादा होटल नहीं हैं। वहां माउंट व्यू होटल है और टीमें ताज होटल में ठहरी हुई थीं। मैंने देखा कि लोग अमेरिका और इंग्लैंड से मैच देखने आए थे।”

इस नॉकआउट मुकाबले में मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी, राहुल गांधी जैसी शख्सियतें आई थीं। पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री यूसुफ रजा जिलानी भी मैच देखने पहुंचे थे। बहुत से सेलिब्रिटीज को भी होटल नहीं मिल रहा था। बीसीसीआई चयनसमित के सदस्य क्रिस श्रीकांत भी उनमें से एक थे। पाकिस्तानी डेलिगेशन के साथ बहुत से लोग थे, जो माउंट व्यू होटल में ठहरे।

यह सेमीफाइनल आशीष नेहरा का फाइनल वनडे साबित हुआ। भारत ने पाकिस्तान को 29 रन से हराया। नेहरा ने 33 रन देकर 2 विकेट लिए।

मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ करा रहे हैं ‘हनुमान चालीसा’का पाठ, ये है वजह

विश्व कप में भारत और पाकिस्तान की यह पांचवीं भिडंत थी और भारत ने जीत का सिलसिला जारी रखा था। अब भारत विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ सभी सात मैच जीत चुका है। नेहरा ने कहा, ”ईमानदारी से कहूं तो मैं भाग्यशाली हूं, क्योंकि मुझे अतिरिक्त टिकट्स शाहिद अफरीदी और शोएब अख्तर ने दिलवाई थी। वकार यूनुस उस समय पाकिस्तान के कोच थे। उस समय मेरे पास एक्स्ट्रा टिकट थे, जो मुझे पाकिस्तानी खिलाड़ियों से मिले थे। मेरे पास सबसे ज्यादा टिकट थे।”

loading...
Loading...
Tags