Main Sliderउत्तर प्रदेशख़ास खबरराजनीतिलखनऊ

त्योहारी मौसम में कोरोना के संबंध में एहतियात बरतना आवश्यक है : योगी  

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में कोरोना संक्रमण की दर में नियंत्रण पर संतोष व्यक्त करते हुये कहा कि त्योहारी मौसम में एहतियात बरतने की जरूरत है।

श्री योगी ने वीडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से सभी मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों, मुख्य चिकित्सा अधिकारियों, नोडल अधिकारियों समेत अन्य वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों से बात करते हुये कहा कि उत्तर प्रदेश में कोविड-19 को नियंत्रित करने में सफलता मिली है। पिछले कुछ दिनों में प्रदेश में कोरोना केसेज की संख्या में कमी आयी है। उन्होंने कहा कि आगामी त्योहारों के दृष्टिगत कोविड-19 के सम्बन्ध में पूरी सतर्कता और बचाव अपनाते हुए कार्य किए जाएं।

संसद से पारित तीनों कृषि विधेयकों पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की लगी मुहर

उन्होने नोडल अधिकारियों से सम्बन्धित जिलों में कोविड-19 के सम्बन्ध में फीडबैक प्राप्त किया। उन्होंने कहा कि पिछले शुक्रवार को उन 16 जिलों में, जहां पिछले एक सप्ताह से 100 या उससे अधिक कोविड-19 के मामले आ रहे थे, नोडल अधिकारियों सहित चार सदस्यीय टीम तैनात की गई थी। इन 16 जिलों में से कुछ ने सुधार किया है। नोएडा में कोविड पाॅजिटिविटी दर पर प्रभावी नियंत्रण किया गया है। आगरा में भी टीम वर्क को अच्छी सफलता मिली है।

श्री योगी ने कहा कि जो नोडल अधिकारी भेजे गए हैं, उन्हें कोविड-19 संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के लिए रणनीति बनाए जाने के निर्देश दिए गए थे। मुख्यमंत्री ने रिकवरी दर को बढ़ाने के लिए प्रभावी कार्यवाही के निर्देश देते हुए कहा कि कोविड मरीजों को समय पर अस्पताल पहुंचाया जाए। कोविड का खतरा लगातार बना हुआ है। पूरी सतर्कता व बचाव के उपायों को अपनाते हुए कार्य संचालित किए जाएं।

सेंसेक्स की टॉप 8 कंपनियों के मार्केट कैप में 1.57 लाख करोड़ रुपये की गिरावट

उन्होंने कहा कि बेहतर सर्विलांस से जीवन रक्षा और कोविड संक्रमण पर नियंत्रण किया जा सकता है। अलग-अलग टीम बनाकर अलग-अलग कार्यों का उत्तरदायित्व सौंपा जाए। टीम वर्क के साथ प्रभावी कार्यवाही की जाए। नोडल अधिकारी ठोस रणनीति के तहत कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि निगरानी समितियों को कार्यशील रखा जाए। कोविड हेल्प डेस्क सभी अस्पतालों, औद्योगिक इकाइयों, सरकारी कार्यालयों में निरन्तर कार्यशील रहें।

श्री योगी ने कहा कि हर जिले में इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेण्टर प्रभावी ढंग से संचालित किए जाएं। होम आइसोलेशन के मरीजों के साथ निरन्तर संवाद रखा जाए। रैपिड रिस्पाॅन्स टीम को प्रभावी ढंग से कार्यशील रखते हुए कार्य किया जाए। जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्साधिकारी प्रतिदिन प्रातः किसी कोविड अस्पताल में तथा सायं इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेण्टर में कोविड-19 के सम्बन्ध में समीक्षा करें। उन्होंने स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग को वर्चुअल आईसीयू की सुविधा हर जिले में एल-2 व एल-3 अस्पताल में उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए।

loading...
Tags