CategorizedMain Sliderउत्तराखंडकासगंजगाजियाबादचंदौलीनई दिल्लीनोएडाबिहारराष्ट्रीय

मौसम विभाग का ऑरेंज अलर्ट, उत्तरप्रदेश उतराखंड और बिहार में हो सकती है जोरदार बारिश

देश में मैदानों से लेकर पहाड़ों तक मूसलाधार बारिश ने तबाही मचा दी है तो वहीं कई मैदानी राज्यों में बाढ़ से हाहाकार मचा है। मौसम विभाग (IMD) ने यूपी, उत्तराखंड, बिहार समेत कई राज्यों में आज यानी 31 जुलाई को भी बारिश की संभावना जताई है।

मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद, बागपत, चंदौसी, संभल, चांदपुर, अमरोहा, मुरादाबाद और आस-पास के इलाकों में अगले कुछ घंटों में गरज के साथ बारिश हो सकती है।

उत्तराखंड से लेकर हिमाचल तक पहाड़ दरक रहे हैं। अगले 24 घंटे पहाड़ों के लिए बेहद भारी हैं। मौसम विभाग ने पिथौरागढ़, बागेश्वर और चमोली जिलों के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। पहाड़ों में मूसलाधार बारिश ने बीते एक महीने से भारी तबाही मचाई है। चमोली में बद्रीनाथ हाईवे पर भूस्खलन हुआ और पहाड़ का हिस्सा नीचे आ गया।

उत्तराखंड के कई जिलों में भारी बारिश और भूस्खलन के चलते सड़कें बह चुकी हैं। ऐसे में लोग जहां-तहां फंसे हुए हैं। धारचुला इलाके के एक गांव में बारिश भूस्खलन के बाद फंसे कुछ लोगों को आर्मी के जवानों ने रेसक्यू कर सुरक्षित बाहर निकाला। आर्मी के जवानों ने लोगों को राहत सामग्री और दवाइयां भी मुहैया कराईं। वहीं, उत्तराखंड के लिए मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे के लिए भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

बिहार के करीब 10 जिलों में बाढ़ से हाहाकार मचा है। खगड़िया में बाढ़ में बहने से गुरुवार को चार लोगों की मौत हो गई है। लेकिन खगड़िया में खतरे से बेपरवाह कई बच्चे बाढ़ के बीच स्टंट करने से बाज नहीं आ रहे हैं। बिहार में बाढ़ आपदा से निपटने में NDRF की टीम लगातार राहत एवं बचाव कार्य में जुटी है।

बिहटा (पटना) में स्थित 9वीं बटालियन NDRF के कमांडेंट विजय सिन्हा ने बताया कि गुरुवार को राज्य आपदा प्रबंधन विभाग की मांग पर पश्चिम चंपारण में तैनात दो टीमों में से एक टीम को सीवान जिले में तैनात कर दिया गया है।

NDRF की कुल 21 टीमें राज्य के कुल 13 जिलों गोपालगंज, पूर्वी चम्पारण, पश्चिम चम्पारण, मुजफ्फरपुर, सारण, सीवान, दरभंगा, मधुबनी, सुपौल, पटना, अररिया, कटिहार और किशनगंज में अत्याधुनिक बाढ़ बचाव एवं संचार उपकरणों के साथ तैनात हैं।

देश की राजधानी दिल्ली में बारिश और हवाओं ने मौसम का मिजाज बदल दिया है। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को भी बारिश की संभावना है। मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के अनुसार इस समय मॉनसून की अक्षीय रेखा दिल्ली के पास बनी हुई है। जिसकी वजह से अगले एक से दो दिनों तक बारिश होने की संभावना है।

 

मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के अनुसार 31 जुलाई को केरल, तटीय कर्नाटक, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और असम के कुछ हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा और पंजाब के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा के आसार हैं।

उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर, गिलगित बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा, छत्तीसगढ़, शेष मध्य प्रदेश, दक्षिणी गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तेलंगाना, रायलसीमा, तटीय आंध्र प्रदेश, आंतरिक तमिलनाडु और लक्षद्वीप के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है।

 

 

loading...
Loading...
Tags