ख़ास खबरशिक्षा

बिहार के विश्वविद्यालयों में आरंभ होंगे शोध कार्य व पीजी की प्रायोगिक कक्षाएं

पटना| बिहार के सभी विश्विवद्यालयों में शोध कार्य व स्नातकोत्तर की प्रायोगिक कक्षाएं आरंभ होंगी। अनलॉक-4 को लेकर केन्द्र सरकार के गाइडलाइन के तहत शिक्षा विभाग ने सभी विश्वविद्यालयों के कुलसचिवों को अपने-अपने विश्वविद्यालयों में इन गतिविधियों को आरंभ करने का आदेश दिया है।

हालांकि महाविद्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थानों में नियमित कक्षाओं का संचालन 30 सितम्बर तक बंद रहेंगे।

परमाणु वैज्ञानिक पद्मश्री डॉ.शेखर बसु का कोरोना से निधन, पीएम मोदी ने जताया शोक

शिक्षा विभाग के विशेष सचिव ने सभी कुलसचिवों को बुधवार की देर शाम पत्र भेजकर निर्देश दिया है कि वे अपने-अपने विश्वविद्यालयों में कोविड-19 के एसओपी का अनुपालन करते हुए पीएचडी के शोध कार्य एवं स्नातकोत्तर के तकनीकी एवं व्यावसायिक कोर्सों के विद्यार्थियों की प्रयोगशाला एवं अन्य प्रायोगिक (एक्सपेरीमेंटल) कार्य आरंभ कराएं। शोध एवं पीजी विभागों में एक दिन में अधिकतम एक तिहाई ही विद्यार्थी आ सकते हैं।

loading...
Tags