Main Sliderउत्तर प्रदेशख़ास खबरलखनऊ

बदायूं जिला कारागार में नौ बंदी और एक जेल कर्मी कोरोना पॉजिटिव

 

बदायूं। उत्तर प्रदेश में बदायूं जिला कारागार में नौ बंदियों तथा एक जेल कर्मी के कोरोना पॉजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया।आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को यहां बताया कि शुक्रवार को देर रात आई रिपोर्ट में जिला कारागार के दस लोग कोरोना वायरस वायरस से संक्रमित पाए गए हैं जिनमें नौ बंदी तथा एक जेल कर्मी (हेड बॉर्डर) शामिल है।

उन्होंने बताया कि कैदियों को अलग बैरक में क्वारंटाइन किया गया है। जिला जेल में क्षमता से लगभग दोगुने बंदी हैं और सीमित स्थान होने की वजह से कोरोना वायरस के संक्रमण की संभावना बहुत ही अधिक है। पिछले चार महीने के दौरान कोरोना के चलते कई सरकारी दफ्तरों को बंद कराना पड़ा था, केवल जिला जेल ही अभी तक इस संक्रमण से बचा था।

लखनऊ के बड़े प्राइवेट स्कूलों ने की फीस में 20 प्रतिशत की छूट

प्रभारी जेल अधीक्षक आदित्य कुमार ने बताया कि शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम जेल पहुंची, यहां टीम ने 185 बंदियों समेत जेल कर्मचारियों का परीक्षण किया। रात को रिपोर्ट आई तो पता लगा नौ नदियों समेत एक हेड वार्डर संक्रमित है। इसकी जानकारी पर जेल प्रशासन ने इन सभी को अलग बैरक में क्वारंटीन कर दिया है।

उन्होंने बताया कि फिलहाल किसी भी बन्दी में कोरोना से जुड़े लक्षण नहीं दिख रहे थे। मुलाकात पर पूरी तरह पाबंदी है। फिर भी संक्रमण कैसे भीतर पहुंच गया है इसकी जांच कराई जा रही है। उन्होंने बताया कि सिर्फ बंदियों की जरूरत का सामान ही उनके परिजन ही पहुचा रहे है। इस सामान को भी सेनिटाइज करके 24 घंटे अलग रखा जाता है। इसके बाद ही बंदियों को देते हैं।

प्रभारी जेल अधीक्षक ने कहा कि उनका अनुमान है कि जो बन्दी दवा लेने अथवा इलाज करवाने आगरा लखनऊ और अलीगढ़ जाते हैं उन्हीं के माध्यम से संक्रमण आया है क्योंकि वे बन्दी भी संक्रमित निकले हैं।

loading...
Loading...
Tags