Main Sliderउत्तर प्रदेशक्राइमख़ास खबरलखनऊ

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के बेटों पर 25-25 हजार का इनाम घोषित, FIR के बाद से है दोनों फरार

माफिया मुख्तार अंसारी की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। सूत्रों की मानें तो यूपी पुलिस ने मुख्तार का बी-वारंट तैयार कर लिया है, वहीं मुख्तार के दोनों बेटों अब्बास और उमर पर 25-25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है। लखनऊ पुलिस ने मुख्तार और उसके बेटों पर यह कार्रवाई डालीबाग में सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण कराने के मुकदमे में की है।  जियामऊ के लेखपाल सुरजन लाल ने यह मुकदमा दर्ज कराया था। अवैध कब्जे वाली जमीन पर बनाए गए दोनों टॉवर एलडीए ने 27 अगस्त को गिरा दिए थे और भूमि को अपने कब्जे में ले लिया था।

दोनों के ऊपर अवैध कब्जे, जालसाजी, साजिश रचने जैसे कई गंभीर धाराओं में केस दर्ज हैं। एफआईआर दर्ज होने के बाद से दोनों फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश में जुटी है।

यूपी में नौ IAS अधिकारियों का तबादला, रंजन कुमार बने लखनऊ के नए कमिश्नर

वहीं, इनाम घोषित होने के बाद दोनों की जल्द गिरफ्तारी की संभावनाएं जताई जा रही हैं। लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे के अनुसार, वारंट बाय नाम की कार्रवाई सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण के मुकदमे में की गई है। गैर जमानती वारंट के लिए कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया गया है।

हजरतगंज की डालीबाग कॉलोनी में सरकारी जमीन पर कब्जा करके दो टावर का निर्माण कराने के मामले में केस दर्ज किया गया था। एलडीए ने दोनों टावर 27 अगस्त को जमीदोंज कर दिए थे। मामले में जियामऊ के लेखपाल सुरजन लाल ने तीनों के खिलाफ शिकायत की थी। हजरतगंज की एसीपी राकेश मिश्रा का कहना है कि मुख्तार का विवरण तैयार है। कोर्ट के आदेश अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

CM योगी आज से दो दिवसीय गोरखपुर दौरे पर, RSS के समर्पण कार्यक्रम में होंगे शामिल

मुख्तार अंसारी का बड़ा बेटा अब्बास नेशनल शूटर है। उसके खिलाफ 12 अक्टूबर 2009 को महानगर कोतवाली में शस्त्र लाइसेंस के मामले में धोखाधड़ी की एफआईआर दर्ज कराई गई थी। इसकी जांच एसटीएफ ने की थी। लखनऊ पुलिस की एक टीम ने दिल्ली के वसंत कुंज स्थित किराए के मकान पर छापेमारी करके ऑस्ट्रेलिया मेड असलहे बरामद किए थे। अब्बास पर आरोप है कि उसने लखनऊ डीएम की अनुमति के बगैर अपना शस्त्र लाइसेंस दिल्ली के पेपर पर ट्रांसफर करा लिया और वहां पांच असलहे और खरीद लिए थे।

loading...
Tags